शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (SCERT) क्या है ?

 कुछ राज्यो में राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद् को राज्य शिक्षा संस्थान (SIE) के नाम से जाना जाता है। यह शिक्षा निदेशालय का अभिन्न अंग है और राज्य शिक्षा विभाग की अकादमिक शाखा है। यह क्षेत्रीय अधिकारियों, जिला शिक्षा अधिकारियों, खण्ड शिक्षा अधिकारियों और विद्यालय के प्रधानाचार्यों को शैक्षणिक मार्गदर्शन देती है। 

 

राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद के कार्य निम्न हैं:-

  • यह प्राथमिक और सेकंडरी विद्यालयों के शिक्षकों, जिला शिक्षा अधिकारियों खण्ड शिक्षा अधिकारियों और विद्यालय निरीक्षकों को सेवाकालीन प्रशिक्षण प्रदान करती है।
  • यह राज्य में प्राथमिक और सेकंडरी स्तरों पर अध्यापक प्रशिक्षण कार्यक्रम को प्रोत्साहन देती है और अध्यापक शिक्षा पाठ्यचर्या का निर्माण भी करती है। यह विद्यालय शिक्षा के लिए पाठ्यचर्या और पाठ्यपुस्तकें तैयार करती है।
  • यह विद्यालय शिक्षा संबंधी आंकड़े एकत्र करती है और शोधकार्य का संचालन करती है तथा उसे नीति निर्धारण, निष्पादन और मूल्यांकन के लिए सचिवालय को देती है।
  • यह अल्पसंख्यक वर्गों तथा अनुसूचित जनजातियों, अनुसूचित जातियों अन्य पिछड़ी जातियों के बच्चों को प्रदान की जाने वाली छात्रवृत्तियों, वजीफों तथा अन्य प्रोत्साहनों पर विचार करती हैं।
  • यह आधुनिक प्रौद्योगिकी तथा दृश्य-श्रव्य साधनों की सहायता से विद्यालय के सभी विषयों में अनुदेशन प्रक्रिया के सुधार की प्रतिपुष्टि करती है।
  • यह राष्ट्रीय अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद, राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद और अन्य केन्द्र स्तरीय संगठनों से शैक्षणिक संपर्क विकसित करती है।

 

Scroll to top
error: Content is protected !!